;


योगासन - तनाव व रोंगों से मुक्ति

22 May, 2021 Views - 223

योग का वर्णन वेदों में फिर उपनिषदों में और फिर गीता में मिलता है, लेकिन पतंजलि और गुरु गोरखनाथ ने योग के बिखरे हुए ज्ञान को व्यवस्थित रूप से लिपिबद्ध किया है l

प्रमुख आसन : किसी भी आसन की शरुआत लेटकर अर्थात श्वासन (चित लेटकर) और मकरासन (औंधा लेटकर) में और बैठ कर दण्डास्न और वजासन में खड़े हो कर अर्थात सावधान मुद्रा या नमस्कार मुद्रा से होती है l यहां कुछ आसनों के नाम निम्न है

  1. सूर्य नमस्कार
  2. उत्कटासन
  3. उपधानासन
  4. आकर्णधनुष्टकारासन
  5. उतान कुक्करासन
  6. उतान्पादास्कन 
  7. कुर्मासन
  8. कोणासन
  9. गरुड़ासन

इस प्रकार योग आसन उम्र हिसाब से अलग अलग प्रकार के होते है l जैसे बच्चों के लिए योग आसन, वृद्धों के लिए योग आसन ,गर्भवती महिलाओं के लिए योग आसन, बैठकर करने वाले योग आसन, खड़े हो कर करने वाले योग आसन, पेट के बाल लेट कर करने वाले योग आसन  विभिन्न बिमारियों को दूर करने के लिए योग आसन, मोटापा दूर करने के वाले योग आसन l


सेहत   जीवन शैली   223

Rated 0 out of 0 Review(s)

Loading more posts